फास्टैग (Fastag) क्या है और कैसे काम करता है | Fastag In Hindi – FasTag kya Hai in Hindi

FasTag kya Hai in Hindi , FasTag Kya Hai , FasTag Kya Hota Hai , Fastag In Hindi , What is FasTag , FasTag Kaise Kaam karta Hai , Benifits of FasTag , Documents Required for FasTag , How to Apply Online FasTag

नमस्कार दोस्तों कैरियर जानकारी के इस ब्लॉग पोस्ट में आपका स्वागत है, आज के इस पोस्ट में हम आपको Fastag In Hindi – FasTag kya Hai in Hindi के बारे में विस्तार से इस पोस्ट में बताया है , आशा करते हैं कि दी गई जानकारी आपको अच्छी लगे , तो आइए जानते हैं आखिरकार FasTag Kya Hai विस्तार से :-

फास्टैग क्या है और ये काम कैसे करता है ? – What is FasTag 

आप अक्सर ट्रेवलिंग करते हैं , तो हमें अक्सर टोल प्लाजाओं पर टोल कलेक्शन सिस्टम से परेशानियों होती है , इसको ध्यान में रखते हुए , टोल प्लाजाओं पर टोल कलेक्शन सिस्टम से होनेवाली परेशानियों का हल निकालने के लिए राष्ट्रीय हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा भारत में इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम का शुरूआत किया गया है । इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम या फास्टैग स्कीम भारत में सबसे पहले साल 2014 में शुरू किया गया था ।

FasTag kya Hai in Hindi

जिसे अब धीरे-धीरे पूरे देश के टोल प्लाजाओं पर लागू कर दिया गया है , इससे फास्टैग सिस्टम की मदद से आपको टोल प्लाजा में टोल टैक्स देने के दौरान होने वाली परेशानियों से आप सभी को निजात मिल सकेगा । फास्टैग की मदद से आप टोल प्लाजा में बिना रूके हुए अपना टोल प्लाजा टैक्स दें सकेंगे । आपको बस अपने वाहन पर फास्टैग लगाना होगा । आप ये टैग किसी आधिकारिक टैग जारीकर्ता या सहभागिता बैंक से खरीद कर अपने गाड़ी पर लगा सकते हैं ।

FasTag Kaise Kaam karta Hai – फास्टैग कैसे काम करता है ?

फास्टैग एक इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है , जिसमे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल होता है इस तकनीक में टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है ,जो की टोल प्लाजा पर लगे सेंसर से स्कैन किया जाता है । जैसे ही कोई फास्टैग लगा हुआ वाहन टोल प्लाजा के पास आता है उस वक़्त टोल प्लाजा पर लगे सेंसर उस वाहन के फास्टैग को Track कर लेता है । Fastag सीधे आपके फास्टैग अकाउंट से कनेक्ट रहता है , इसलिए टोल प्लाजा पर बिना रुके ही आप इसकी साहयता से टोल टैक्स फीस भर सकते है ।

यह FasTag का पूरा प्रोसेस आटोमेटिक होता है , इसलिए टोल प्लाजा पर बिना गाड़ी रोके आटोमेटिक आपके फास्टैग कार्ड टोल प्लाजा के सेंसर्स द्वारा स्कैन किया जाता है ,और आपके अकाउंट से टोल का शुल्क अपने आप कट जाता है और फास्टैग अकाउंट का बैलेंस ख़त्म होने के बाद आपको उसे फिर से रिचार्ज करना होता है ।

FasTag kya Hai in Hindi

FasTag एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है , जिसमे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल किया जाता है , जिसकी मदद से सड़क से गुजरती हुई गाड़ियों से आटोमेटिक टोल का शुल्क लिया जाता है । फास्टैग आपको अपने गाड़ी के विंडस्क्रीन के ऊपर लगाना होता है , वही दूसरी तरफ टोल प्लाजा पर एक सेंसर लगाया होता है , जो आपके गाड़ी के ऊपर लगे फास्टैग को आटोमेटिक स्कैन कर लेता है और स्कैन करने के बाद आपके फास्टैग अकाउंट से टोल का शुल्क अपने आप कट जाता है ।

FasTag की जरुरत किसे है ?

फास्टैग अनिवार्य है और इसकी जरुरत किन किन लोगों को है , तो आपको बता दूँ की फास्टैग लगभग सभी हाइवेज टोल प्लाज़ास पर सरकार द्वारा 15 फरवरी से अनिवार्य कर दिया है , लेकिन अगर नए वाहन मालिकों को इसके बारे में चिंता करने की जरुरत नहीं है , क्योंकि नए वाहनों को वाहन रजिस्ट्रेशन के समय ही फास्टैग उपलब्ध कराया जायेगा । अगर आपके पास पुराना वाहन है , तो आप फास्टैग को उन बैंकों से खरीद सकते है , जो सरकार के राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह के अंदर आती है वैसे तो आप FasTag को Airtel Money , Phonepay , PayTm से भी फास्टैग को आसानी से खरीद सकते है ।

फास्‍टैग के क्या फायदे है ? – Benifits of FasTag

FasTag एक मॉडर्न आटोमेटिक टोल कलेक्शन टेक्नोलॉजी है , जिसके इस्तेमाल से काफी सारे फायदे होते है और अब भारत के सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने फास्टैग तकनीक को कई टोल प्लाजाओं पर शुरू किया है । इसलिए Fastag का सबसे बड़ा फायदा , यह होगा कि अब टोल प्लाजा पर गाड़ियों की लम्बी लम्बी लाइन्स नहीं लगेगी , क्योंकि फास्टैग से टोल काटने का काम आटोमेटिक होगा । जिससे सभी लोगों काफी समय बच जायेगा और फास्टैग यूज़ करने पर आपको डिस्काउंट भी मिलता है ।

फास्‍टैग कहां से लें ? – FasTag Kaha Se le

Fastag लेना अब बहुत ही आसान है , आप सरकार के राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह के अंदर आने वाली किसी भी बैंक जैसे , पेटीएम , फानपेय , भारतीय स्टेट बैंक (SBI) , एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक , आईडीएफसी बैंक , आईसीआईसीआई बैंक, से आप इसे खरीद सकते है फास्‍टैग के लिए आप ऑनलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते है और इसे PayTM , Airtel Payment Bank , Phonepay से भी ले सकते है ।

Fastag के आवश्यक दस्तावेज – Documents Required for FasTag

फास्टैग खरीदने के लिए सबसे पहले आपको फासटैग आवेदन करना होगा , इसके लिए आपको फास्टैग आवेदन करते वक़्त कुछ जरुरी दस्तावेजों (Documents) की जरुरत होती है , जो की इस प्रकार है : –

  • वाहन के पंजीकरण प्रमाण पत्र (RC)
  • वाहन मालिक के पासपोर्ट साइज की तस्वीर
  • कोई भी KYC डाक्यूमेंट्स से की आधार कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस / पासपोर्ट / Voter ID Card / PAN कार्ड

फ़ास्टैग के लिए आवेदन कैसे करें ? – How to Apply for Fastag ?

आप सभी जानते हैं कि 15 दिसंबर से सभी वाहनों पर फ़ास्टैग लगवाना अनिवार्य कर दिया गया हैं, इसलिए यदि आपको इसके लिए आवेदन करना है तो आप निम्न चरणों को फॉलो करें :–

  • लेकिन एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त करने से पहले आपको उस बैंक का चयन करना होगा जिस बैंक से आप फ़ास्टैग प्राप्त करना चाहते है. जैसे ही आप बैंक का चयन करेंगे आपकी स्क्रीन पर एक नई विंडो खुल जाएगी.
  • यहाँ से आप फ़ास्टैग के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • यहाँ आपको इससे जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त हो जाएगी ।
  • यहाँ पहुंचने के बाद आपको करना यह होगा कि , वहां पर आपको एक फ़ास्टैग की लिंक दिखाई देगी उस पर क्लिक करना है ।
  • उसके बाद आपके सामने एक डिस्क्लेमर लिखा हुआ दिखेगा उसे पढ़ कर ‘आई अग्री’ बटन पर क्लिक करें ।
  • इसके बाद फ़ास्टैग प्राप्त करने के लिए आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जाएगा , उसमें आपसे अपनी एवं अपने वाहन से जुडी कुछ जानकरी पूछी जाएगी, जिसे आपको भरना होगा और साथ ही सभी दस्तावेजों को इसमें अटैच भी करना होगा ।
  • सब कुछ हो जाने के बाद अंत में सबमिट बटन पर क्लिक कर आपको फ़ास्टैग कैसे प्राप्त होगा इसके निर्देश मिल जायेंगे । और साथ ही बैंक आपके नाम से एक स्लिप भी जारी कर देगा ।
  • उस स्लिप के माध्यम से आप फ़ास्टैग कार्ड को अपने बैंक खाते से लिंक भी कर सकते हैं ।

इसके अलवा यदि आप पॉइंट ऑफ़ सेल के माध्यम से फ़ास्टैग के लिए आवेदन करना चाहते हैं , तो आपको पीओएस के अंतर्गत आने वाले टोल टैक्स प्लाजा या एजेंसी के पास जाना होगा और वहां जाकर अपने वाहन के लिए फ़ास्टैग खाता खुलवाना होगा । यदि आप यह जानना चाहते हैं कि पॉइंट ऑफ़ सेल कहाँ – कहाँ उपस्थित है, तो इसके लिए आप राष्ट्रीय हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर इसका पता लगा सकते हैं ।इस तरह से आप अपने वाहन के लिए फ़ास्टैग प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

फास्टैग रिचार्ज करने का ऑनलाइन तरीका – FASTag Recharge process in hindi

फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज कैसे करें ? – How to Recharge Fastag ?

यदि आपका फ़ास्टैग खाता बैंक के साथ लिंक नहीं है और जब आपके फ़ास्टैग खाते में पैसे ख़त्म हो जायें, तो उसके बाद आपको उसे रिचार्ज करना होता है , क्योकि आपके फ़ास्टैग खाते में कम से कम 100 रूपये और ज्यादा से ज्यादा 1 लाख रूपये होना आवश्यक है। आवेदक फ़ास्टैग को रिचार्ज करने के लिए अपनी सुविधा के अनुसार क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड एवं नेटबैंकिंग का उपयोग कर सकते हैं । इसके लिए निम्न स्टेप्स फ्लो करके आप आसानी से घर बैठे बैठे ही कर सकते हैं , जैसा कि नीचे दिए गए हैं :-

फोन पे एप्प के माध्यम से :-

आप फ़ोन पे एप्प पर भीम यूपीआई आईडी का उपयोग करके फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज कर सकते हैं इसकी प्रक्रिया इस प्रकार है :–

  • सबसे पहले आप अपने फोन पर फोन पे एप खोलें, यह आपके एंड्राइड स्मार्ट फोन में पहले से ही डाउनलोड रहता है ।
  • इसे खोलने के बाद इसके होमपेज में ‘टू कांटेक्ट’ का विकल्प दिखाई देता है उस पर क्लिक करें ।
  • इसके बाद आप ‘भीम यूपीआई आईडी’ पर जाएँ. इसके बाद नीचे आपको ऐड ‘भीम यूपीआई आईडी’ पर क्लिक करना है जहाँ से आपको अपना मोबाइल नंबर वैलिडेट करना होगा. तब आपके फोन में एक एसएमएस भी आयेगा ।
  • फिर आपको अपनी भीम यूपीआई आईडी, रजिस्टर्ड नेम और निकनेम डालकर कन्फर्म करना होगा. आप पेमेंट पेज पर पहुँच जायेंगे. रजिस्टर्ड नाम में आपको अपने उस बैंक का नाम डालना होगा जहाँ से आपने फ़ास्टैग के लिए आवेदन किया था ।
  • इसके बाद आप अपने फ़ास्टैग खाते को जितना रिचार्ज करना चाहते है वह राशि उसमें इंटर कर दीजिये. और फिर आपके वाहन का फ़ास्टैग खाता रिचार्ज हो जायेगा.
  • आपके संबंधित बैंक से सफलता पूर्वक भुगतान हो जाने के बाद आपको भुगतान की पुष्टि और फ़ास्टैग रिचार्ज का आपके फोन पर एक मेसेज आ जायेगा.

गूगल पे एप्प के माध्यम से :-

  •  इसके अलावा यदि आप भीम यूपीआई आईडी का उपयोग कर गूगल पे एप के माध्यम से रिचार्ज करना चाहते हैं तो वह भी कर सकते हैं इसके लिए निम्न बिन्दुओं पर ध्यान दें –
  • सर्वप्रथम आप आपके स्मार्टफोन में इन्सटाल्ड गूगल पे एप को खोलें, इसके लिए आपको गूगल पिन नंबर की आवश्यकता होगी.
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर ‘न्यू’ बटन शो होगी उस पर क्लिक करें और फिर आपकी स्क्रीन पर भुगतान के लिए पेज खुल जायेगा. वहां से आपको ‘यूपीआई आईडी या यूआर’ विकल्प पर क्लिक करना है.
  • फिर जो टैब खुलेगा वह आपका ‘पे टू’ टैब होगा जहाँ से आपको पेमेंट करने के लिए ‘यूपीआई आईडी’ पर क्लिक करना हैं, और अपनी यूपीआई आईडी इंटर करनी पड़ेगी.
  • फिर आपकी स्क्रीन पर वेरीफाई की बटन मौजूद होगी आप उस पर क्लिक कर दें. फिर आपकी स्क्रीन पर बैंक पेमेंट का पेज खुल जायेगा.
  • यहाँ आपको भुगतान करने के लिए अपने बैंक का चयन करना है और भुगतान बटन पर क्लिक कर भुगतान करना है ।
  • इसमें आपको उतनी ही राशि का भुगतान करना है जितना आप फ़ास्टैग खाते को रिचार्ज करना चाहते हो ।
  • बैंक की शुद्धता की पुष्टि के लिए टेस्टिंग के रूप में 1 रूपये भेजें और यह वेरीफाई हो जाने के बाद पूरा भुगतान कर दें ।
  • अंत में आपको एक एसएमएस आयेगा जिसमें आपको मोबाइल फोन पर भुगतान की पुष्टि और फ़ास्टैग रिचार्ज की जानकारी दी हुई होगी ।

अतः इस तरह से आपका फ़ास्टैग खाता रिचार्ज हो जायेगा , जिससे टोल प्लाजा में आपके वाहन को ट्रैक कर भुगतान भी प्रक्रिया टेक्नोलॉजी के मध्यम से खुद ब खुद ही हो जाएगी , इसमें आपको परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा ।

FASTag Banks List – List of Banks that provide FASTag

No.Bank
1Airtel Payment Bank
2Allahabad Bank
3AU Small Finance Bank
4Axis Bank Ltd
5Bank of Baroda
6Bank of Maharashtra
7Canara Bank
8Central Bank of India
9City Union Bank Ltd
10Equitas Small Finance Bank
11Federal Bank
12FINO Payments Bank
13HDFC Bank
14ICICI Bank
15IDBI Bank
16IDFC FIRST Bank
17Indusind Bank
18Karur Vysya Bank
19Kotak Mahindra Bank
20Nagpur Nagarik Sahakari Bank
21PAYTM Bank
22Punjab Maharashtra & Co-operative Bank
23Punjab National Bank
24Saraswat Co-operative Bank
25South Indian Bank
26State Bank of India
27Syndicate Bank
28Union Bank of India
29Yes Bank Ltd

Conclusion :-

दोस्तों उम्मीद है आपको फास्टैग के बारे में दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी , अगर आपको फास्टैग (Fastag) क्या है और कैसे काम करता है , FasTag kya Hai in Hindi यह पोस्ट पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें How to Recharge FasTag , how to recharge FasTag in Hindi , Uses of FasTag । धन्यवाद टीम – Career JANKARI

AMAN RAHUL career JANKARI CEO & Founder

I’m Rahul Founder of careerjankari.in , Career jankari is a free Hub for knowledge about different fields of education and current affair news .

We first started as a local magazine in 2013 and in 2019 we started our online journey to severe the world with the most and unbiased news & educational Blog .

Leave a Reply